Friday, October 5, 2007

अपनी वेबसाईट पर विक्रय कर के कमायें.

इन्टरनेट पर आप कैसे कमा सकते है?
आप इन्टरनेट पर निम्न तरीकों से कमा सकते हैं
  • 1- अपनी वेबसाईट पर विक्रय कर के
  • 2-अपनी वेबसाईट पर प्रति क्लिक पर भुगतान (Pay-Per-Click Programs) के द्वारा (गूगल एडसेन्स भी इसी तरह से आय देता है)
  • 3- अपनी वेबसाईट पर प्रति विक्रय भुगतान (Pay-Per-Sale Programs) प्रोग्राम के जरिये
  • 4- अपनी वेबसाईट पर प्रति लीड पर भुगतान (Pay-Per-Sale Programs) के द्वारा
  • 5- ई-बे या अन्य सार्वजनिक वेबसाईट पर विक्रय कर के
  • 6- अपने वेबसाईट पर वस्तु प्रमोशन में लेख लिखकर

इसके अलावा अन्य तरीके भी हैं इन पर धीरे धीरे बातें करते रहेंगे अभी हम अपनी वेबसाईट पर अपने सामान के विक्रय के बारे में बात करें

अपनी वेबसाईट पर विक्रय कर के कमायें
क्या आपके कुछ एसा उत्पाद या सेवा देते हैं जो इन्टरनेट पर बेची जा सकतीं है? यदि आपको लगता है हां तो फिर यह ज़रूर बेची जा सकती हैं ये वस्तु आपके द्वारा लिखी गयी ई-पुस्तक हो सकती है, आपके शहर में बन रही कलाकृति हो सकती है, आपके द्वारा बनाया साफ्टवेयर हो सकता है

उदाहरण के लिये मेरे एक मित्र आप्रवासियों को इन्डिया से शादी, बधाई, नये साल के कार्ड छपवा कर भेजते है इन्डिया से बाहर इन्डियन्स को शादीकार्ड, निमन्त्रण पत्र (Indian Cards for Marriage, Invitation and New Year) आदि नहीं मिलते उनकी एक वेबसाईट है जिस पर उन्होंने सभी कार्ड्स के बारे में लगभग सौ लेख लिख रखे हैं और कार्ड्स के नमूने डाल रखे हैं और उन्हें इसके लिये अच्छे आर्डर मिल जाते हैं अधिकांश आप्रवासी दिवाली, नये साल पर भारत में रहने वाले व्यक्तियों को कार्ड भेजते है और मेरे वह मित्र उन आप्रवासियों की ओर से कार्ड भारत से ही पोस्ट करते हैं


यदि आपकी वेबसाईट पर अच्छी संख्या में रीडर आते हैं तो आप भी एसी वस्तुयें बेच सकते हैं
यदि आपकी वेबसाईट पर साहित्य में रुचि रखने वाले व्यक्ति आते हैं तो आप अपनी वेबसाईट के जरिये पुस्तकें बेच सकते हैं आपके प्रोडक्ट क्या हो सकते हैं, आप खुद ही खोजिये

आप अपनी प्रोडक्ट या सेवा का भुगतान कैसे प्राप्त करेंगे?
यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो आप पे-पाल (Pay Pal) की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं इसके लिये आप http://paypal.com/ पर जायें इसकी सद्स्यता एकदम मुफ्त है। ये आपके द्वारा प्राप्त की गयी राशि पर मामूली कमीशन काटते हैं।

इसके अतिरिक्त निम्न भारतीय संस्थाये आपकी ओर से आपके ग्राहकों से क्रेडिटकार्ड से भुगतान लेकर आपके खातों में जमा कर देतीं है ये निम्न हैं

ये कंपनिया अपनी सेवा के लिये तीन प्रतिशत से लेकर सात प्रतिशत राशि की कटौती करती है इसके अलावा आईसीआईसीआई बैंक का पेसील (payseal) सेवा भी है पर मैं आपको उसे अपनाने की सलाह नहीं दूगा क्योंकि ये बहुत मंहगी है.

तो आप खोजिये कि आप इन्टरनेट पर क्या बेच सकते हैं
अभी तो बात शुरू हुई है, आपको पसंद आयी तो बात करते रहेंगे।

2 comments:

संजय तिवारी said...

नूर भाई आपका काम सचमुच सराहनीय है.

Suresh Chiplunkar said...

जी हाँ. मैने भी इनकी सभी पोस्ट पढीं, काफ़ी फ़ायदेमंद बातें बता रहे हैं नूर साहब, ऐसे ही लिखते रहें, ताकि हम कागज काले करने वालों को भी थोड़ा पैसे का ज्ञान हो जाये (भले पैसा आये या ना आये)